zindgi

तुम मेरी ज़िंदगी में आये ही क्यों | सैड शायरी

तुम मेरी ज़िंदगी में आये ही क्यों.. क्यों मेरी ज़िंदगी वीरान कर दी तुम मेरे नाम ज़िंदगी भी न कर पाए.. मैंने तुम्हारे नाम ये… Read More »तुम मेरी ज़िंदगी में आये ही क्यों | सैड शायरी