Independence Day _ Republic Day Shayari | Bhaarat Se Mera Naata Hai | भारत से मेरा नाता है

independence day and republic day shayari

पहले थी आवाज़ क्रांति..
अब बच्चा बच्चा गाता है
गर्व है मैं इस देश से हूँ..
भारत से मेरा नाता है

वो ग्रन्थ भारत देश हमारा..
हर पन्ना एक निशानी है
लेख लिखे हैं खून से अपने..
शहीदों की कुर्बानी है

नाम जिनका है अमर सदा..
अमर सारी दिशाओं में
आवाज़ उनकी आज भी है..
जो गूंजती है फिज़ाओं में

प्रतीक तिरंगा आज़ादी का..
तिरंगा देश की शान है
दुनियां में अलग हस्ती इसकी..
संस्कृति इसकी महान है

कश्मीर स्वर्ग जहाँ बसता..
हर रंग इसका भाता है
गर्व है मैं इस देश से हूँ..
भारत से मेरा नाता है
पहले थी आवाज़ क्रांति..
अब बच्चा बच्चा गाता है
गर्व है मैं इस देश से हूँ..
भारत से मेरा नाता है
भारत से मेरा नाता है

Republic Day_Independence Day Shayari

Pahle Thi Aawaaz Kraanti..
Ab Bachcha Bachcha Gaata Hai
Garv Hai Main Is Desh Se Hoon..
Bhaarat Se Mera Naata Hai

Wo Granth Bharat Desh Hamaara..
Har Panna Ek Nishaani Hai
Lekh Likhe Hain Khoon Se Apne..
Shaheedo Ki Kurbaani Hai

Naam Jinka Hai Amar Sada..
Amar Saari Dishaaon Mei
Aawaaz Unki Aaj Bhi Hai..
Jo Goonjti hai Fizaaon Mei

Prateek Tiranga Aazaadi Ka..
Tiranga Desh Ki Shaan Hai
Duniyan Mei Alag Hasti Iski..
Sanskriti Iski Mahaan Hai

Kashmeer Swarg Jahan Basta..
Har Rang Iska Bhaata Hai
Garv Hai Main Is Desh Se Hoon..
Bhaarat Se Mera Naata Hai
Pahle Thi Aawaaz Kraanti..
Ab Bachcha Bachcha Gaata Hai
Garv Hai Main Is Desh Se Hoon..
Bhaarat Se Mera Naata Hai
Bhaarat Se Mera Naata Hai

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *